दाल पूरी तो बहुत बनाई होगी, आज बनाएं एक अलग तरीके से – Bharwa pudi – Dal Puri Recipe

Share This Recipe

गेहूं के आटे से बनी कस्ता चटपटी चना दाल की कचौड़ी।  ये कचौड़ी खाने में बहुत स्वादिष्ट और कुरकुरी होती है और इसमें मैदा का बिल्कुल भी इस्तेमाल नहीं किया तो ये हेल्थ के लिए भी अच्छी है। बहुत से लोग कचौड़ी सुबह-सुबह नाश्ते में खाना पसंद करते है वही कुछ लोगो के यहां कचौड़ी त्योहार या किसी खास अवसर पर बनती है अगर कचौड़ी कुरकुरी है तो बड़ो के साथ साथ बच्चों की भी फेवरेट हो जाती है और ये हेल्थी है तो घर की महिलाओ के लिए भी टेंशन नहीं रहती है। 

आवश्यक सामग्री 

  • गेंहू का आटा – 2 कप 
  • तेल – 1/2 कप 
  • चना दाल – 1/3 कप 
  • हींग – 1 /2 चुटकी 
  • जीरा – 1/2 छोटी चम्मच 
  • अदरक –  1 छोटी चम्मच 
  • हरी मिर्च – 2 
  • धनिया पाउडर – 1 छोटी चम्मच 
  • सौंफ- 1 छोटी चम्मच 
  • लाल मिर्च पाउडर – 1/2 छोटी चम्मच 
  • गरम मसाला- 1/4 छोटी चम्मच 
  • अमचूर पाउडर – 1/2  छोटी चम्मच 
  • अजवाइन- 1/2 छोटी चम्मच 
  • नमक – 1 छोटी चम्मच 
  • तेल तलने लिए   

विधि 

दाल की कचौड़ी बनाने के लिए 2 कप  गेहूं का आटा ले लीजिये आटे में 1/2 छोटी चम्मच नमक,1/2 छोटी चम्मच अजवाइन और  1/2 छोटी चम्मच तेल डाल कर सभी चीजों को मिल लीजिये, 

अब थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए सॉफ्ट आटा गूंथ लीजिये आटा गूथ जाने पर इसे ढ़क कर सैट होने के लिए रख दीजिये, इतना आटा गुथने में 1/2  कप से भी थोड़ा सा ज्यादा पानी का इस्तेमाल किया गया है। 

स्टफ़िंग बनाने के लिए  

स्टफिंग बनाने के लिए 1/3 कप  चना की दाल ले कर 2 घंटे के लिए भिगोने रख दीजिये, 2 घंटे बाद दाल को पानी में से निकाल कर एक मिक्सर जार में डाल कर दरदरा पीस लीजिये 

अब एक पैन में  2 बड़ी चम्मच तेल डाल कर गर्म कर लीजिये तेल के गर्म हो जाने पर उसे 1/2  छोटी चम्मच जीरा, 1 छोटी चम्मच सौंफ , 1 /2 चुटकी हींग, 1 छोटी चम्मच अदरक और 2 हरी मिर्च डाल कर धीमी आंच पर भून लीजिये। 

मसालों के हल्का सा भून लेने पर इसमें पीसी हुई दाल, 1 छोटी चम्मच धनिया पाउडर, 1/2  छोटी चम्मच लाल मिर्च , 1 /4 गरम मसाला, 1 /2 छोटी चम्मच अमचूर पाउडर और 1 /2 छोटी चम्मच नमक डाल  कर सभी चीजों को मिलते हुए दाल को मध्यम आंच पर भून लीजिये दाल को भुनने में 7 मिनट का समय लगा है दाल के भून जाने पर इसे एक अलग बर्तन में  निकल कर ठंडा करने रख दीजिये, स्टफिंग के ठंडा हो जाने के बाद आटे को निकल कर मसल मसल कर सॉफ्ट करके छोटी छोटी लोईया तोड़ लीजिये। 

कचौड़ी को तलने के लिए एक कड़ाई में तेल डाल गर्म करने रख दीजिये अब आटे की एक लोई लेकर उसे गोल कर के चपटा कर लीजिये और उंगलियो की सहायता से लोई को कटोरी जैसा आकार दे कर उसमे एक चम्मच स्टफिंग डाल कर चोरो तरफ से आटे को उठा कर स्टफिंग को बंद कर के हाथों से दबा कर चपटा कर लीजिये इसी तरीके से 4-5 कचौड़ी भर कर तैयार कर लीजिये, अब थोड़ासा आटा तेल में डाल कर तेल का तापमान चैक कर लीजिये अगर आटा डालने पर बबल आने लग जाए तो  तेल कचौड़ी सेकने के लिए तैयार है हमें कचौड़ी सेकने के लिए मध्यम से भी कम गर्म तेल ही चहिये।अब एक भरी हुई कचौड़ी ले कर उसे हाथ पर रख कर हथेली से दबाब देते हुए बड़ा लीजिये और तेल में सिकने के लिए डाल दीजिये कचौड़ी के  एक ओर सिक जाने पर उसे पलट कर दूसरी ओर से भी धीमी आंच पर सिकने दीजिये कचौड़ी को दोनों और से अच्छा गोल्डन ब्राउन होने तक तले। कचौड़ी के अच्छे गोल्डन ब्राउन होने पर उसे तेल से निकल लीजिये और इसी तरिके से बाकि कचौड़ी भी तल लीजिये एक बार की कचौड़ी तलने में 10 से 12 मिनट का समय लग जाता है ।आटे की कस्ता कचौड़ी सर्व करने के लिए तैयार है आप इन्हे हरे धनिया की चटनी के साथ खाए ये बहुत ही स्वादिष्ट लगेगीं।

सुझाव 

हमने कचौड़ी को हाथ से बढ़ाया है आप चाहें  तो बेलने से भी बेल सकते हैं। 

Share This Recipe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *